बिटकॉइन क्या है?

क्या आप बिटकॉइन के बारे में जानना चाहते हैं? इसकी मूल्य कैसे बढ़ता और घटता है? आप इसे कहाँ स्टोर करते हैं? बिटकॉइन वॉलेट क्या है?
तो यह article आपको बिटकॉइन के बारे में सभी उपयोगी चीजों को जानने में मदद करेगा|

बिटकॉइन और इसका इतिहास

बिटकॉइन 2009 में सतोशी नाकामोतो द्वारा आविष्कार करने वाली पहली क्रिप्टोकरेंसी है। हम बिटकोइन को डिजिटल करेंसी और वर्चुअल करेंसी के रूप में भी जानते हैं, क्योंकि बिटकॉइन का केवल एक मूल्य है जो इंटरनेट पर उपलब्ध है, कोई भी इसे देख या छु नहीं करता। चूंकि बिटकॉइन पहली क्रिप्टोकरेंसी है इसलिए हम बिटकॉइन को मुख्य क्रिप्टोकरेंसी मुद्रा के रूप में भी जानते हैं। और बाजार में उपलब्ध प्रत्येक कॉइन बिटकॉइन पर निर्भर करता है। बिटकॉइन का पहला लेन-देन पिज्जा खरीदने के लिए किया गया था| और 1 बिटकॉइन की कीमत उस समय केवल 9 रुपये थी और आज इसकी कीमत लगभग 6 लाख प्रति कॉइन है।

बिटकॉइन को बनाने के मुख्य कारण :-

बिटकॉइन के विकास के पीछे मुख्य कारण यह नहीं था ऐसी मुद्रा बनायीं जाये, जिसे लोग कम कीमत पर ख़रीदे और कुछ समय बाद ज्यादा कीमत पर बेच कर पैसे कमाए। बिटकॉइन का मुख्य उद्देश्य एक ऐसा सिस्टम बनाना था जिससे हम एक ही मुद्रा का उपयोग करते हुए दुनिया भर से किसी भी सेवा का उपयोग कर सके और साथ ही उस मुद्रा का मूल्य लगभग हर जगह है एकसमान हो| और यहां तक ​किसी भी ​कि सरकार, लोगों आदि जैसे किसी भी तीसरे पक्ष का भी उस मुद्रा पर कोई विशेष अधिकार ना हो। अत: बिटकॉइन सिर्फ एक डिजिटल मुद्रा है जिसे हमारी आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए बनाया गया था।

Bitcoin
बिटकॉइन के मूल्य में उतार चढाव के कारण :-

जैसा कि हमने ऊपर चर्चा की है कि 1 bitcoin की कीमत 2009 में 9 रुपये थी और आज यह लगभग 6 लाख प्रति कॉइन है। तो अब सवाल यह है कि बिटकॉइन की कीमतें बहुत अधिक बढ़ती घटती क्यों रहती हैं | तो इस उतार चढाव का एकमात्र कारण बिटकॉइन की मांग है। और जैसा की हम जानते है की किसी भी वस्तु की जब माँग बढती है तो उसके मूल्य में भी विकास होता है तो यही नियम बिटकॉइन पर भी लागू होता है। इसलिए बिटकॉइन की माँग जितनी अधिक होती है उतनी ही इसकी कीमत बढ़ती जाती है और इसके विपरीत यदि माँग घटती है तो बिटकॉइन की कीमत भी घटती है । बिटकॉइन के उतार चढ़ाव का एक और कारण इसके खबरों पर भी निर्भर करता है। अगर कोई भी खबर बिटकॉइन के पक्ष में है तो इसकी कीमत में बढती है और अगर कोई खबर बिटकॉइन के विपरीत होती है तो इसकी कीमत घटती है|

Bitcoin Chart

नोट: - किसी भी क्रिप्टोकरेंसी कॉइन की कुल संख्या का निर्णय उसके विकास के समय निर्धारित किया जाता है और बिटकॉइन की भी कुल संख्या पहले से ही निर्धारित है जो की 21 मिलियन है और बिटकॉइन की वर्तमान बाजार में संख्या लगभग 17 मिलियन है।

बिटकॉइन वॉलेट :-

यदि आप बिटकॉइन से परिचित हैं या इसके लिए इन्टरनेट पे सर्च किया है तो आपने बिटकॉइन वॉलेट शब्द के बारे में जरूर सुना होगा| तो बिटकॉइन वॉलेट सामान्य वॉलेट के जैसा ही होता है जहाँ [पर हम अपने बिटकॉइन को रख सकते है| और यह वॉलेट फिजिकल और वर्चुअल दोनों रूपों में उपलब्ध है। ट्रेजर एक वर्चुअल बिटकॉइन वॉलेट है जहां आप अपने बिटकॉइन को ऑफ़लाइन स्टोर कर सकते हैं ताकि आप अपने कॉइन को हैकर्स से सुरक्षित रख सकें। और वर्चुअल बिटकॉइन वॉलेट वे होते हैं जो केवल इंटरनेट पर उपलब्ध होते हैं। जैसे ब्लॉकचैन बिटकॉइन वॉलेट इत्यादि इन वर्चुअल बिटकॉइन वॉलेट को बनाने के कई तरीके हैं जिन्हें हम आने वाले articles में विस्तार से जानेंगे।

Bitcoin wallet Bitcoin wallet

दोस्तों उम्मीद हैं कि इस article ने आपको बिटकॉइन, बिटकॉइन का इतिहास, बिटकॉइन की कीमतों में परिवर्तन और बिटकॉइन वॉलेट बारे में जानने में मदद की होगी |

हमें नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में अपने विचारों को बताएं |

यदि आपको यह article पसंद आया तो आप हमारे Youtube चैनल को subscribe कर सकते है जहाँ आपको क्रिप्टोकरेंसी से सम्बंधित काफी videos मिलती रहेंगी | आप हमे Facebook,Twitter,Instagram और Telegram पे भी फॉलो कर सकते है|

8 comments

  1. 804020 172525This style is steller! You certainly know how to maintain a reader amused. Between your wit and your videos, I was almost moved to start my own blog (nicely, almostHaHa!) Fantastic job. I actually enjoyed what you had to say, and much more than that, how you presented it. Too cool! 423170

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *